गुरु पर कविता हिंदी में – गुरु की महत्ता | गुरु की महिमा बताती कविता

0

आइये पढ़ते है रश्मि लता जी की गुरु की महिमा बताती कविता | ( Guru Par Kavita Hindi Me ) गुरु पर कविता हिंदी में – गुरु कौन –

गुरु पर कविता हिंदी में

गुरु पर कविता हिंदी में - गुरु कौन
ज्ञान का मार्ग जो
है करता प्रशस्त
होने ना देता जो
शिष्य को कभी भ्रष्ट।
जीवन को जो सँवारे
किसी कुम्हार जैसा
माटी से बना देता है
कुम्हार जैसा शिष्य में।
भर देता है खजाना
नेकी का दिल में,
 हिम्मत बढ़ाये सबकी
 जब भी  मुश्किल आये।
 किताबी शिक्षा तो
 प्रदान है करता ही पर
 व्यावहारिकता का भी
गुरु हमें पाठ पढ़ाये।
अनुशासन की दे नसीहत
राष्ट्र का रक्षक बनवाएं
मानवता की पिलाकर घुट्टी
तब जाकर हमको दे छुट्टी।
दुनिया के फिर रंग दिखाएं
ऐसे महान कार्य हो जिनके
सचमुच गुरु वही कहलाए
जीवन उसके चरणों में अर्पण।
गुरु की महत्ता वही बढ़ाए
सचमुच गुरु वही कहलाए
ऐसे गुरु के चरणों में करते
हम श्रद्धा सुमन अर्पण ।

रचनाकार परिचय –
रश्मि लता मिश्रा

जन्म तिथि :30 जून,1957
जन्म स्थान ।:बिलासपुर छ ग
पिता :स्व गोकर्णनाथ पांडे
माता :स्व शांति देवी पांडे
पति :श्री मनोहरलालमिश्र
शिक्षा :एम ए हिंदी
प्रसारण

दो भजन संग्रह- :भजन रश्मि नव दुर्गा रास,
राम प्रसारण :आकाश वाणी
बिलासपुर से दो कहानियां
रायपुर सवांजली स्टूडियो से 8 भजन सी डी प्रकाशन .:नवभारत में आर्टीकल व्यक्तिविशेष
नोयडा वर्तमान अंकुर में कविताएं
लोकल सामाजिक पत्रिकाओं में भी लेख कविताएं
सम्प्रति :वर्तमान में डी ए वी पब्लिक वसन्त विहार शाला से रिटायर्ड
सम्मान :लायन्स क्लब बिलासपुर द्वारा काव्य पाठ हेतु
के के समाज मे शिक्षक दिवस
वर्तमान में लायनेस मेन क्लब बिलासपुर में मेंबर, डिस्ट्रिक चेयर पर्सन मेम्बर के समाज मे उपाध्यक्ष GD फाउंडेशन में प्रांताध्यक्ष।


गुरु की महिमा बताती “ गुरु पर कविता हिंदी में ” ( Guru Par Kavita Hindi Me ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

0

Leave a Reply