Category: प्रेम कविताएं

नाराजगी पर कविता | Narazgi Par Kavita

0 आप पढ़ रहे हैं नाराजगी पर कविता :- नाराजगी पर कविता जब नाराज़ हो जाती हो तुम.. बैचेन हो जाता हूं मै। तारों बिन.. उदास आसमान सा। जैसे …

विरह गीत :- कोयलिया गीत सुनाती है | Virah Geet

0 आप पढ़ रहे हैं विरह गीत “कोयलिया गीत सुनाती है” :- विरह गीत कोयलिया गीत सुनाती है, कोयलिया गीत सुनाती है। गीत के गुन्जन से रग रग में …

हिंदी कविता प्रेम कलश | Hindi Kavita Prem Kalash

+1 आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता प्रेम कलश :- हिंदी कविता प्रेम कलश प्रेम कलश ( प्रथम सर्ग – प्रस्तावना ) प्राक्कथन – ” प्रेम कलश ” शीर्षक …

हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना | Khwabon Ka Ashiyana

+5 आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना :- हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना बेवजह होश में हम आने चले थे, जो दूर दूर तक नहीं थे …

हिंदी कविता अजनबी बनकर | Hindi Kavita Ajnabi Bankar

+6 आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता अजनबी बनकर :- हिंदी कविता अजनबी बनकर अजनबी बनकर ही सही कुछ देर ठहर जाते होठ ख़ामोश ही सही ख़ामोश रहकर ही …

हिंदी कविता दिल की आरजू | Hindi Kavita Dil Ki Arzoo

+7 आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता दिल की आरजू :- हिंदी कविता दिल की आरजू तेरे नाम की खुशबू संग मन मदहोश हुआ जाता है । बेचैन दिल …

उनकी याद आई है :- किसी की याद में प्रशांत त्रिपाठी जी की कविता

+26 किसी की याद में लिखी गयी कविता उनकी याद आई है :- उनकी याद आई है आज फिर से उनकी याद आई है, दिल रो रहा है आंख …

प्रेयसी पर कविता :- चाह प्रेम की दे दे प्रेयसी | Preyasi Kavita

+6 अपनी प्रेयसी से प्रेम स्वीकार करने की भावना को शब्दों में प्रस्तुत करती प्रेयसी पर कविता ” चाह प्रेम की दे दे प्रेयसी ” प्रेयसी पर कविता चाह …

इश्क पर हिंदी कविता :- ये बेदाग इश्क मेरा

+3 इश्क सुकून है तो दर्द भी है। इश्क के भी दो रूप हैं। एक रूप तब दिखता है जब हम किसी की ख्वाहिश करते हैं। दूसरा इश्क वो …

इश्क पर कविता :- इश्क़ में धड़कनें फिर मचलने लगी

+5 इश्क का अहसास बहुत ही प्यारा होता है। जब ये किसी को हो जाता है ना तो वो अपनी सुध-बुध खो बैठता है। और क्या-क्या होता है उसके …