प्रेम कविताएं

हिंदी कविता बड़ा अभिमान था

कविता प्रेयसी का सौंदर्य वर्णन :- यूं चेहरे से मुसकाई हो

+9 कविता प्रेयसी का सौंदर्य वर्णन यूं चेहरे से मुसकाई हो, ज्यूं ईश्वर की परछाई हो। नैनन देखा मन बहक गया, किस्मत पर अपने ठिठक

Read More »