Author: Sandeep Kumar Singh

किसान पर कविता :- धरा ही उसकी माता है | Kisan Par Kavita

0 भारतीय किसान के जीवन और उसके संघर्ष को बयान करती संदीप कुमार सिंह की किसान पर कविता :- किसान पर कविता पेट जो भरता लोगों का मिट्टी से …

समय पर दोहे :- समय पर आधारित 10 दोहे | Samay Par Dohe

0 हमारे जीवन में समय का बहुत महत्त्व होता है। जो व्यक्ति समय की क़द्र नहीं करता उसे आगे चल कर बहुत पछताना पड़ता है। उसका जीवन कठिनाइयों के …

गुलजार की दो लाइन शायरी | Gulzar Two Line Shayari

0 सम्पूर्ण सिंह कालरा जो पूरी दुनिया में ग़ुलज़ार नाम से प्रसिद्ध हिंदी फिल्मों एक प्रसिद्ध गीतकार हैं। इसके साथ ही वे एक कवि, पटकथा लेखक, फ़िल्म निर्देशक नाटककार …

रक्षाबंधन पर शायरी :- राखी पर भाई और बहन की शायरी

0 रक्षाबंधन पर शायरी रिश्ते तो कई होते हैं दुनिया में लेकिन एक रिश्ता बहुत ही खास होता है। ये रिश्ता है भाई और बहन का। भाई और बहन …

हिंदुस्तान पर कविता :- हिंदुस्तान में | Hindustan Par Kavita Poem In Hindi

+1 हमारा देश सभी देशों से अलग है और इसका कारन है यहाँ की एकता, मानवता और सुन्दरता। हिंदुस्तान जहाँ मेहमान को भगवान माना जाता है और सभी लोग …