Tag: बिसेन कुमार यादव

गौरैया पर कविता :- ओ मेरी प्यारी गौरैया | Sparrow Poem In Hindi

12+ गौरैया पर कविता ओ मेरी प्यारी गौरैया, तुम हमसे रूठ ना जाओ! ओ मेरी सोनचिरैया तुम हमसे दूर ना जाओ, बस मेरी इतनी है विनती अब तो घर …

विश्व पर्यावरण दिवस पर हिंदी कविता :- कटते जंगल | 5 जून पर विशेष कविता

6+ विश्व पर्यावरण दिवस पर हिंदी कविता धरती की हरियाली को तूने लूटा है, बताओ कितने जंगल को तूने काटा हैं! वनो में अब न गुलमोर न गूलर खड़ी …

भ्रूण हत्या पर कविता :- माँ मुझे भी जीना है | Bhrun Hatya Kavita In Hindi

7+ भ्रूण हत्या पर कविता माँ मुझे भी जीने की लालसा है! मेरी भी कुछ अभिलाषा है! मैं भी नभ के तारे बन चाहती हूँ दमकना! मैं भी सूरज …

नाक पर कविता :- नाकों की दुनिया भी अजीब अनूठी | Poem On Nose In Hindi

6+ नाक पर कविता किसी की नाक पतली तो किसी की मोटी! नाकों की दुनिया भी अजीब अनूठी!! चोंच की तरह नुकीली तो किसी की चपटी नाक! किसी की …

हिंदी कविता कुछ कह रहा हूँ | Hindi Kavita Kuch Kah Raha Hu

4+ हिंदी कविता कुछ कह रहा हूँ कुछ कह रहा हूँ, दिलरूबा! तू बातें सुन मेरी  महबूबा!! सारे अरमान दफन  हो गए हैं! सारे संबंध दफन हो गए हैं!! …

देश भक्ति कविता कब तक | Desh Bhakti Kavita Kab Tak

2+ देश भक्ति कविता कब तक कब-तक आदमखोर दरिंदो की दरिंन्दगी बढ़ती जाएगी! आखिर कब-तक दहशतगर्दों की दहशतगर्दी बढ़ती जाएगी!! फिर क्या यूँ ही आतंकी सरेआम-कत्लेआम करते जायेंगे! फिर …