Tagged: श्रीमती केवरा यदु मीरा

श्रीमती केवरा यदु ” मीरा ” जी राजिम (छतीसगढ़) जिला गरियाबंद की रहने वाली हैं। उनकी कुछ प्रकाशित पुस्तकें इस तरह हैं :-
1- 1997 राजीवलोचन भजनांजली
2- 2015 में सुन ले जिया के मोर बात ।
3-2016 देवी गीत भाग 1
4- 2016 देवीगीत भाग 2
5 – 2016 शक्ति चालीसा
6-2016 होली गीत
7-2017  साझा संकलन आपकी ही परछाई।2017
8- 2018 साझा संकलन ( नई उड़ान )

इसके अतिरिक्त इनकी अनेक पत्र-पत्रिकाओं में रचनायें प्रकाशित हो चुकी हैं। इन्हें इनकी रचनाओं के लिए लगभग 50 बार सम्मानित किया जा चुका है। इन्हें वूमन आवाज का सम्मान भी भोपाल से मिल चुका है।
लेखन विधा – गीत, गजल, भजन, सायली- दोहा, छंद, हाइकु पिरामिड-विधा।
उल्लेखनीय- समाज सेवा बेटियों को प्रशिक्षित करना बचाव हेतु । महिलाओं को न्याय दिलाने हेतु मदद गरीबों की सेवा।

विद्यार्थियों के लिए प्रेरक कविता

विद्यार्थियों के लिए प्रेरक कविता :- उठो नौजवां छूलो उड़ कर गगन

छात्र ही हमारे देश का भविष्य होते हैं। ऐसे में उन्हें सही  मार्गदर्शन और प्रेरणा...

Sainik Par Hindi Kavita

भारतीय सेना पर दोहा गीत :- सैन्य सबल है देश की

भारतीय सेना के शौर्य को प्रस्तुत करती और चीन को उसकी औकात बताता भारतीय सेना...

रक्षाबंधन पर छोटी सी कविता

रक्षाबंधन पर हिंदी कविता :- आया राखी का त्योहार

भाई बहन के रिश्ते को समर्पित है रक्षाबंधन का त्यौहार। लेकिन जब भाई सरहद पर...