Home » अवस्थी कल्पना

अवस्थी कल्पना

नाम – अवस्थी कल्पना
पता – इंद्रलोक हाइड्रिल कॉलोनी , कृष्णा नगर , लखनऊ
शिक्षा – एम. ए . बीएड . एम. एड

मन की अभिलाषा कविता :- मन मेरे किसी मोड़ पर

योग दिवस पर कविता

आप पढ़ रहे हैं मन की अभिलाषा कविता :- मन की अभिलाषा कविता मन मेरे किसी मोड़ पर हार जाना नहीं, है कठिन पथ तेरा हर कदम आखिरी सांस तक भूल जाना नहीं। मन आशाओं की डोर रहा, जीवन हर्षित कल्पनाओं की ओर रहा। मन स्वप्न देखता रहता है, मन अनुराग विवश हर ओर रहा। …

मन की अभिलाषा कविता :- मन मेरे किसी मोड़ पर Read More »

हिंदी कविता कर्महीन नर | Hindi Kavita Karmheen Nar

मानव जीवन बड़ा अमूल्य है

आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता कर्महीन नर :- हिंदी कविता कर्महीन नर है कर्महीन नर निज पशुता सम, पथहीन निराश्रित विषय विषम। मानव तन है मूल्यवान निज कर्तव्यो से मत भागो तुम, गफलत की नींद बहुत सोए उठो नींद से जागो तुम। अर्जुन सा लक्ष्य रखो अपना बस लक्ष्य निशाना बांधो तुम मानव तन …

हिंदी कविता कर्महीन नर | Hindi Kavita Karmheen Nar Read More »

अंकुर सा बढ़ता जीवन | Ankur Sa Badhta Jeevan

अंकुर सा बढ़ता जीवन

आप पढ़ रहे हैं प्रेरणादायक कविता ( Ankur Sa Badhta Jeevan ) अंकुर सा बढ़ता जीवन :- अंकुर सा बढ़ता जीवन काल से हर हाल में लड़ने चला हूं, जीवन के सफ़र में हौसलों संग बढ़ने चला हूं। अंकुर से बढ़ते जीवन में कब तक तूफ़ान आएँगे, एक दिन छोटे से तिनके से सारे के …

अंकुर सा बढ़ता जीवन | Ankur Sa Badhta Jeevan Read More »

हिंदी कविता नव निर्मित निर्माण | Nav Nirmit Nirman

हिंदी कविता नव निर्मित निर्माण

आप पढ़ रहे हैं ( Hindi Kavita Nav Nirmit Nirman ) हिंदी कविता नव निर्मित निर्माण :- हिंदी कविता नव निर्मित निर्माण सभ्यता संस्कृति में ढह गए लोगों के आचार, नियति की नियत में बदल गया व्यवहार। हुआ क्या नव भारत निर्माण अंग्रेजी के दो लफ़्ज़ों में दुनियां में छा जाते हैं, हिंदी भाषी गर …

हिंदी कविता नव निर्मित निर्माण | Nav Nirmit Nirman Read More »

सैनिक पर हिंदी कविता :- देश की शान में

हिन्दी कविता राष्ट्र धर्म

आप पढ़ रहे हैं सैनिक पर हिंदी कविता ” देश की शान में ” :- सैनिक पर हिंदी कविता देश की शान में मिट जाऊ कोई गम नहीं, जिस दिन न आऊँ मां तुझसे मिलने समझ लेना दुनियां में हम नहीं। चला हूं आज मैं मां भारती की रज को मस्तक पर सजाने झुके न …

सैनिक पर हिंदी कविता :- देश की शान में Read More »

हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना | Khwabon Ka Ashiyana

कविता सोच रही हूँ मैं

आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना :- हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना बेवजह होश में हम आने चले थे, जो दूर दूर तक नहीं थे अपने उन्हें अपना बनाने चले थे। मदहोश निगाहों में ख़्वाबों का आशियाना बनाने चले थे, हवाएं बार बार मेरे मन को छू जाती थी भीनी भीनी खुशबुओं …

हिंदी कविता ख़्वाबों का आशियाना | Khwabon Ka Ashiyana Read More »

बेटी पर कविता हिंदी में :- बेटियां आंगन की रौनक

बेटी पर हिंदी कविता

बेटी पर कविता हिंदी में “बेटियां आंगन की रौनक” :- बेटी पर कविता हिंदी में बेटियां आंगन की रौनक घर की तहजीब होती हैं, लग जाते किस्मत में चार चांद जब बेटियां नसीब होती हैं। रुके कदम न तेरा है तुझको आशीर्वाद हमारा, मेरे घर आंगन का बेटी तू है चमकता सितारा। कभी न टूटे …

बेटी पर कविता हिंदी में :- बेटियां आंगन की रौनक Read More »

हिंदी दिवस पोएम :- हिंदी को प्रणाम करते हैं

शब्द और भाषा पर दोहे

हिंदी भाषा को समर्पित हिंदी दिवस पोएम ” हिंदी को प्रणाम करते हैं ” :- हिंदी दिवस पोएम हम अपनी राष्ट्रभाषा ,मातृभाषा हिंदी को प्रणाम करते हैं वतन की शान ,हिंदुस्तान की जान, अपनी पहचान हिंदी का सम्मान करते है। है जाति अलग, है धर्म अलग भेष अलग परिवेश अलग सबको एक दूजे से पहचान …

हिंदी दिवस पोएम :- हिंदी को प्रणाम करते हैं Read More »

हिंदी कविता देश की शान | Hindi Kavita Desh Ki Shaan

सैनिक दिवस पर विशेष कविता

दिल में जोश भरती देशभक्ति हिंदी कविता देश की शान :- हिंदी कविता देश की शान जिगर जुनूनी हौसलों में उड़ान रखते हैं रग-रग में देश का जज्बा दिल में स्वाभिमान रखते हैं हम झुक नहीं सकते ललकारो से जिगर जुनूनी रखते हैं जो कटता नहीं तलवारों से दिल में एक तमन्ना जाग उठी चारो …

हिंदी कविता देश की शान | Hindi Kavita Desh Ki Shaan Read More »

कविता मन की आँखों से | Kavita Man Ki Aankhon Se

कविता सोच रही हूँ मैं

आप पढ़ रहे हैं कविता मन की आँखों से :- कविता मन की आँखों से गुमनाम गलियों में गीत बहारों के गाते हैं पतझड़ में भी फूल हर डाली पे खिलाते हैं । मन की आंखो से सुंदर सा ख्वाब सजाया है गम की काली बदली में खुशियों का फूल खिलाया है जून की तपती …

कविता मन की आँखों से | Kavita Man Ki Aankhon Se Read More »

जिंदगी का सफर कविता :- ऐ जिन्दगी मत पूछ

कविता सोच रही हूँ मैं

जिंदगी का सफ़र एक ऐसा सफ़र है जिसमें सब साथ होते हुए भी अलग-अलग सफ़र कर रहे होते हैं। ऐसे ही एक सफ़र पर निकल रही हैं इस कविता की रचयिता। आइये पढ़ते हैं ( Zindagi Ka Safar Kavita In Hindi ) जिंदगी का सफर कविता ” ऐ जिन्दगी मत पूछ ” जिंदगी का सफर …

जिंदगी का सफर कविता :- ऐ जिन्दगी मत पूछ Read More »

कविता शिक्षक दिवस पर | Kavita Shikshak Diwas Par

शिक्षक पर कविता

5 सितम्बर को मनाये जाने वाले शिक्षक दिवस को सामर्पित कविता शिक्षक दिवस पर :- कविता शिक्षक दिवस पर दिशासूचक है जो संग रखता है अपने बुद्धिमानी ऐसे महान शिक्षक गुरुओं को प्रणाम करती है मेरी वाणी । किया है हम पर जो उपकार नहीं कर सकती मै शब्दों में आभार । पिलाकर ज्ञान का …

कविता शिक्षक दिवस पर | Kavita Shikshak Diwas Par Read More »