हरीश चमोली

मेरा नाम हरीश चमोली है और मैं उत्तराखंड के टेहरी गढ़वाल जिले का रहें वाला एक छोटा सा कवि ह्रदयी व्यक्ति हूँ। बचपन से ही मुझे लिखने का शौक है और मैं अपनी सकारात्मक सोच से देश, समाज और हिंदी के लिए कुछ करना चाहता हूँ। जीवन के किसी पड़ाव पर कभी किसी मंच पर बोलने का मौका मिले तो ये मेरे लिए सौभाग्य की बात होगी।

Motivational Kavita मंजिल को यदि पाना है Inspirational Poem

Motivational Kavita

Motivational Kavita आप पढ़ रहे हैं मोटिवेशनल कविता मंजिल को यदि पाना है Motivational Kavitaमंजिल को यदि पाना है मंजिल को यदि पाना है तो,गिरकर हमको उठना होगा।मध्य मार्ग में आने वालेहर कंटक से लड़ना होगा।असफलता को मार ठोकरें,हमको आगे बढ़ना होगा।गिरकर हमको उठना होगा। जीवन में कुछ करने खातिर,सोने सा फिर तपना होगा।सपना जब तक पूरा न …

Motivational Kavita मंजिल को यदि पाना है Inspirational Poem Read More »

मधुमास और तेरी याद हिंदी कविता | Madhumas Aur Teri Yaad Hindi Kavita | Poem On Love

Kaidi Aur Kokila

Madhumas Aur Teri Yaad Kavita आप पढ़ रहे हैं मधुमास और तेरी याद हिंदी कविता :- मधुमास और तेरी याद आ गया मधुमास फिर से, साथ में तेरा प्यार लेकर।पायलों से फूल खनके, हर डाल में झंकार लेकर। चहकी है फिर से चिरैया, महकी सरसों क्यारियाँ हैं।आरती ले हाथ में मैं, चौखट  खड़ा सत्कार लेकर। मैं ऋणी हर रात …

मधुमास और तेरी याद हिंदी कविता | Madhumas Aur Teri Yaad Hindi Kavita | Poem On Love Read More »

Gantantra Diwas Par Kavita | गणतंत्र दिवस पर कविता

Gantantra Diwas Par Kavita

Gantantra Diwas Par Kavita आप पढ़ रहे हैं गणतंत्र दिवस पर कविता :- Gantantra Diwas Par Kavitaगणतंत्र दिवस पर कविता कितनी पीड़ा सही उन्होंने,तिरंगे की शान बचाने को।खदेड़ फिरंगियों को भारत से,अपनी आजादी पाने को। कुछ ने सीने पर गोली झेली,तो कुछ फंदों पर झूल गए।लाशों के अनगिन ढेर जले थे,यहाँ संविधान बनाने को। बाईबिल,गीता,कुरान …

Gantantra Diwas Par Kavita | गणतंत्र दिवस पर कविता Read More »

घर के बंटवारे पर कविता :- बँटवारे का माहौल

Ghar Par Kavita

आप पढ़ रहे हैं घर के बंटवारे पर कविता :- घर के बंटवारे पर कविता तन्हाईयों का शोर फिर से, गूँजने लगा है शहर में। जाने क्या से क्या हुआ ये, सोच रहे हैं डर ही डर में। कुछ रिश्तेदारों के सम्मुख, बैठ गए सब आँगन में, बँटवारे का माहौल जब से, तैयार हुआ मेरे …

घर के बंटवारे पर कविता :- बँटवारे का माहौल Read More »

हिंदी कविता शापित | Hindi Kavita Shapit

Judai Par Kavita

आप पढ़ रहे हैं ( Hindi Kavita Shaapit ) हिंदी कविता शापित :- हिंदी कविता शापित कुछ पदचिन्ह छोड़ चले हम, जिंदगी की राहों में, ढूंढोगे घर हमारा एक दिन,पता लेकर के बाहों में। रोओगे तो तुम भी एक दिन,जब देखोगे दर्पण में। यह हाथ छोड़कर गए थे कैसे, गैरों की पनाहों में। डूब न …

हिंदी कविता शापित | Hindi Kavita Shapit Read More »

कलम पर कविता :- कलम की ही जय कहूँगा | Best Poem On Pen In Hindi

हिंदी कविता मैं लिखता रहूंगा

कलम पर कविता Poem On Pen In Hindi क्रांति सिर्फ बंदूकों से ही नहीं आती, कलम से भी आती है। बन्दूक से तो किसी को डराया, धमकाया या मारा जा सकता है लेकिन बदला नहीं जा सकता। वहीं कलम से सरे देश की विचारधारा को बदला जा सकता है। कलम की जंग बंदूकों की जंग …

कलम पर कविता :- कलम की ही जय कहूँगा | Best Poem On Pen In Hindi Read More »

हिंदी कविता कई सपने | Hindi Kavita Kayi Sapne

Badal Par Kavita

हिंदी कविता कई सपने तन्हा बैठकरके खुद से,कई सवाल कर रखे हैं। हाँ मैंने भी दिल में,कई सपने पाल कर रखे हैं। जिंदगी की राहों पर, कई ख़याल कर रखे हैं। कुछ चंद मुट्ठीभर पैसे भी, संभाल कर रखे हैं। खून-पसीना बहाकर,दर्द-ए-गम को भुलाकर, कुछ काम जिंदगी में मैंने,बेमिसाल कर रखे हैं। कुछ ख्वाहिशें,तमन्नाएँ ,भी …

हिंदी कविता कई सपने | Hindi Kavita Kayi Sapne Read More »

राम मंदिर जीत पर कविता :- मिल गयी है जीत उनको

Bhagwan Ram Par Kavita

आप पढ़ रहे हैं ( Ram Mandir Jeet Par Kavita ) राम मंदिर जीत पर कविता “मिल गयी है जीत उनको” :- राम मंदिर जीत पर कविता मिल गयी है जीत उनको, जो चले थे सत्य पथ पर। मुख मलिन उनका हुवा जो, थे चढ़े अन्याय रथ पर। रो रही थी जो अयोध्या, रघुवंश के …

राम मंदिर जीत पर कविता :- मिल गयी है जीत उनको Read More »

Nari Sashaktikaran Par Kavita | नारी सशक्तिकरण पर कविता | Best Women Empowerment Poem

Nari Sashaktikaran Par Kavita

Nari Sashaktikaran Par Kavita हमारे समाज में सदियों से नारी पर अत्याचार होते आये हैं। आज बदलाव का समय है। समय है की नारियां अपनी ताकत स्वयं बने और अन्याय के विरुद्ध अपनी शक्ति दिखाएँ। ऐसे ही विषय को प्रस्तुत कर रही है यह ( Nari Sashaktikaran Par Kavita ) नारी सशक्तिकरण पर कविता :- …

Nari Sashaktikaran Par Kavita | नारी सशक्तिकरण पर कविता | Best Women Empowerment Poem Read More »

इश्क पर हिंदी कविता :- ये बेदाग इश्क मेरा

Rose Poem In Hindi

इश्क सुकून है तो दर्द भी है। इश्क के भी दो रूप हैं। एक रूप तब दिखता है जब हम किसी की ख्वाहिश करते हैं। दूसरा इश्क वो है जिसमें हम तड़पते हैं। जिसमें कोई बिछड़ जाता है। कैसे आइये पढ़ते हैं इश्क पर हिंदी कविता में :- इश्क पर हिंदी कविता न जाने कौन …

इश्क पर हिंदी कविता :- ये बेदाग इश्क मेरा Read More »

इश्क पर कविता :- इश्क़ में धड़कनें फिर मचलने लगी

Rose Poem In Hindi

इश्क का अहसास बहुत ही प्यारा होता है। जब ये किसी को हो जाता है ना तो वो अपनी सुध-बुध खो बैठता है। और क्या-क्या होता है उसके साथ आइये पढ़ते हैं इश्क पर कविता में :- इश्क पर कविता इश्क़ में धड़कनें, फिर मचलने लगी। इश्क़ का कुछ असर, यूँ हुआ ख्वाबों में। खोलता …

इश्क पर कविता :- इश्क़ में धड़कनें फिर मचलने लगी Read More »

नारी अस्मिता पर कविता :- क्यूँ बना नारी जीवन

Nari Sashaktikaran Par Kavita

बिना नारी समाज की कल्पना भी नहीं  की जा सकती। नारी ही है जिसके कारन सारा संसार गतिमान है। नारी माँ बन कर पालती है। बहन बन कर राखी बांधती है। रानी लक्ष्मीबाई बन कर अपने हक़ के लिए लड़ती है। मदर टेरेसा बन कर सब की सहायता करती है। फिर भी हमारे समाज में …

नारी अस्मिता पर कविता :- क्यूँ बना नारी जीवन Read More »