देशभक्ति कविताएँ – हिन्दुस्तान में और सभाँलूँ मैं चमन

0

आप पढ़ रहे हैं देशभक्ति कविताएँ ( Desh Bhakti Kavita In Hindi ) –

देशभक्ति कविताएँ

देशभक्ति कविताएँ

हिन्दुस्तान में

अपनी हिम्मत न हारे हम जलते रेगिस्तान में
वंजर भूमि भी उपजाऊ करदें हिन्दुस्तान में

दुश्मन कोई आँख दिखाये उसको हम न छोड़ेगे
जब तक नहीं रूकेंगी साँसें तब तक उसे खदेड़ेंगे
इस धरती पर जगह मिले न उसको कब्रिस्तान में
अपनी हिम्मत ………………………………..

खेलते आये है बच्चे भी भारत के शमशीरों से
नहीं बँधे रह सकते पल भर दुश्मन की जंजीरों से
मँहक रहीं है सबकी साँसें गुल सी गुलिस्तान में
अपनी हिम्मत …………………………………

हमने मारा रौध-रौधकर बुरी तरह शैतान को
डरा नहीं सकता है कोई भारत की सन्तान को
अजब अजूबे मिल जायेंगें भारत की दास्तान में
अपनी हिम्मत ………………………. …… ….


सभाँलूँ मैं चमन की हर कली

सभाँलूँ मैं चमन की हर कली को बागवा बनके
सभाँले माँ कोई जैसे किसी औलाद को जनके

न खटकेगी किसी की आँख में फिर खौफ की लाली
लगेंगी फिर झडी खुशियों की होगी रोज दीवाली
अगर चल दे जमाना संग मेरे कारबाँ बनके
सभाँलूँ मै ………………………………..

गुलिस्ताँ प्यार का हर ओर यहाँ खिलता नजर आये
मिटाये मिट सके न यह जहाँ मिसाल बन जाये
कहेगा हर कोई आया अजूबा आठवाँ बनके
सभाँलूँ मै ……………………………………

दरिन्दों के गुनाहों का गुनाह कोई माँफ नहीं है
उठा लो हाथ में हथियार अगर इन्साफ नहीं है
अगर है देखने तुमको हजारों रंग जीवन के
सभाँलूँ मै ……………………………………

खुलेआम होते कत्ल है यहाँ बेगुनाहों के
हजारों दफन होते है रोजाना बिन दवाओं के
पड जायेंगे फिर एक दिन यहाँ लाले कफन के
सभाँलूँ मै …………………………………….

पढ़िए – देशभक्ति कविता “पैगाम”


मेरा परिचय :- 

रामअवतार पाल

मेरा परिचय

नाम. : राम अवतार पाल

पिता श्री : स्व. श्री सियाराम

जन्म स्थान. : रम्पुरा (बहजोई)
जिला – सम्भल (उ.प्र.)

कार्य स्थल : हीरा कालौनी,सिकन्दराबाद
जिला- बुलन्दशहर
(उ.प्र.) 203205

जन्म तिथि : 20 अगस्त 1966

शिक्षा : एम. ए. (सोसियोलौजी)

व्यवसाय. : लिमिटेड़ कम्पनी में
मैनेजर

विशेष. : * अखिल भारतीय कवि
सम्मेलनों में सहभागिता
* अनेक साँझा संग्रह में
प्रकाशित रचनाएं
* सिकन्दराबाद से प्रका-
शित साप्ताहिक
अखबार”गुलाब सुगन्ध”
में प्रकाशित रचनाऐ

नवोदित साहित्यकार मंच से प्रकाशित शुभमस्तु 4, 5, 6 में प्रकाशित रचनायें

काव्य दर्पण में प्रकाशित रचनायें

पता : हीरा कालौनी ,हरिओम प्रिंटिंग प्रेस के बराबर,
सिकन्दराबाद
जिला- बुलन्दशहर (उ.प्र.)
पिन कोड़ 203205


“ देशभक्ति कविताएँ ” ( Desh Bhakti Kavita In Hindi ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

 

0

Leave a Reply