स्वतंत्रता दिवस पर शायरी और नारे – 15 अगस्त पर विशेष रचना | Swatantrata Diwas Par Shayari

0

स्वतंत्रता दिवस पर शायरी ( Swatantrata Diwas Par Shayari ) :- 15 अगस्त आजादी का दिन सभी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन होता है। देश के स्वतंत्र होने का उल्लास पूरे भारतवर्ष में मनाया जाता है। ऐसे में एक दुसरे को शुभकामनाएँ भेजने के लिए कई बार हमें  शब्द नहीं मिलते। आइये पढ़ते हैं स्वतंत्रता दिवस पर लोगों को भेजने के लिए नारे , शुभकानाएँ स्टेटस आदि स्वतंत्रता दिवस पर शायरी ( Swatantrata Diwas Par Shayari ) में :-

स्वतंत्रता दिवस पर शायरी और नारे

स्वतंत्रता दिवस पर शायरी

1
पंद्रह अगस्त महान है
देश की आन,बान, शान है।

2
वीरों ने सर कटाया है,
तब स्वतंत्रता दिवस आया है।

3
स्वतंत्रता दिवस की रखना लाज।
भारत हमेशा रहे आजाद।

4
तोड़ गुलामी की जंजीरें
महका आजादी का फूल
पंद्रह अगस्त को उड़ रही, स्वतंत्रता की देश में धूल।

5
गुलामी रूपी तम को जब,
आज़ादी का प्रकाश मिला।
स्वतंत्र बना भारत,
और स्वतंत्रता का दिवस मना

6
यह मत भूलो वीरों ने,
तिरंगा नहीं झुकाया था।
इसी तिरंगे की खातिर,
सर अपना कटाया था।

7
बहुत घुटन की गुलामी में आजादी को तरस रहे ।
पंद्रह अगस्त की लाली ने देश में नए रंग भरे।

8
स्वतंत्रता दिवस की प्रथम कड़ी
सन सत्तावन से थी जुड़ी।
सैंतालीस पर आकर पहुंची
स्वतंत्र होकर फिर अकड़ी

9
स्वतंत्रता दिवस मनाए आज
खोल के मन की सारी गांठ।
मानवता को लगा गले,
आओ सब तिरंगे तले।

10
स्वतंत्रता का सच्चा नारा,
देश हमारा सबसे प्यारा।
खाओ शपथ में भूलोगे
अपने प्यारे देश की खातिर,
फांसी पर भी झूलो गे

11
स्वतंत्रता किसको नहीं प्यारी।
कोई ना पिंजरा चाहे।
सोने का क्यों ना हो पिंजरा,
पंछी तो उड़ जावे।

12
स्वतंत्रता दिवस की शुभ घड़ी,
आसमान पर छाई खुशी।
मनोरम दृश्यों की लगी झड़ी,
देशभक्तों के मन छूटी फुलझड़ी

13
स्वतंत्रता का प्यारा परचम
तिरंगा लाल किले पहरा।
आज दिवस आजादी का,
अवसर बड़ा सुनहरा।

14
स्वतंत्रता का पावन पर्व,
झूमो नाचो गाओ,
वक्त है आनंददायी,
मिलकर खुशी मनाओ।

15
स्वतंत्रता दिवस न्यारा है।
आजादी का पर्व हमारा है
सजा तिरंगा न्यारा है
जान से हमको प्यारा है।

पढ़िए – स्वतंत्रता दिवस पर कविता “लाल किले पर आज तिरंगा”


परिचय – 

जन्म तिथि :30 जून,1957
जन्म स्थान :बिलासपुर छ ग
पिता :स्व गोकर्णनाथ पांडे
माता :स्व शांति देवी पांडे
पति :श्री मनोहरलालमिश्र
शिक्षा :एम ए हिंदी
प्रसारण
दो भजन संग्रह । भजन रश्मि | नव दुर्गा रास, राम प्रसारण , आकाश वाणी
बिलासपुर से दो कहानियां
रायपुर सवांजली स्टूडियो से 8 भजन सी डी प्रकाशन .:नवभारत में आर्टीकल व्यक्तिविशेष
नोयडा वर्तमान अंकुर में कविताएं

लोकल सामाजिक पत्रिकाओं में भी लेख कविताएं
सम्प्रति :वर्तमान में डी ए वी पब्लिक वसन्त विहार शाला से रिटायर्ड
सम्मान :लायन्स क्लब बिलासपुर द्वारा काव्य पाठ हेतु
के के समाज मे शिक्षक दिवस
वर्तमान में लायनेस मेन क्लब बिलासपुर में मेंबर, डिस्ट्रिक चेयर पर्सन मेम्बर के समाज मे उपाध्यक्ष GD फाउंडेशन में प्रांताध्यक्ष।


“ स्वतंत्रता दिवस पर शायरी  ” ( Swatantrata Diwas Par Shayari ) जोकि नारे , शुभकामनाएं स्टेटस आदि के लिए भी प्रयोग किये जा सकते हैं, के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

 

0

Leave a Reply