योग का महत्व – अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कविता

0

योग का महत्व – अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कविता – प्रिय पाठकों योग का हमारे जीवन में कितना महत्व है आज हम सौदामिनी खरे जी की इस कविता के माध्यम से पढेंगे तो आइये पढ़ते है योग के महत्व को बताती विश्व योग दिवस पर कविता  – आओ मिलकर योग करें

योग का महत्व – आओ मिलकर योग करें 

योग का महत्व - अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कविता

आओ मिलकर योग करें ।
घर में मिलकर नित योग करें ।
हम योग करें  निरोग रहें।
आओ मिलकर योग करें ।

प्रातः काल निद्रा से जाग।
फिर गर्म पानी पिया करे।
हाथ मुँह धोकर शौच पश्चात।
आओ मिलकर योग करें ।
कम्बल पर आसन लगाए।
सर्व प्रथम भस्त्रिका करें ।
कपालभाति है माँ हमारी।
इसे एक मिनट से सुरु करे
आओ मिलकर योग करें ।

अनुलोम विलोम है पितृ सम।
यह मानसिक विकास करे।
यह आपका संतुलन बनाता
इसे हर समय हम किया करे ।
आओ मिलकर योग करें ।
भ्रामरी की शान निराली।
स्मरण शक्ति मे बढत करे।
कान की सब बीमारी को।
मिलकर जड़ से दूर करे।
आओ मिलकर योग करें ।

उद्गीत मे ओमकार छिपा है ।
सोहम के सुर को सुना करे।
अग्नि सार की बात निराली ।
सब मिलकर के योग करें ।
आओ मिलकर योग करें ।
त्राटक की हैअजब कहानी।
नेत्रों की ज्योति बढ़ा करे।
प्राणायाम और आसन है
योग के दोनो सोपान करे।
आओ मिलकर योग करें

सूर्य नमस्कार आसन का वृन्द।
बारह आसन नित किया करे।
जिसने योग का अलख जगाया।
उन स्वामी रामदेव को नमन करे।
इक्कीश जून है विश्व योग दिवस।
जन जन को मिलकर जागरूक करें ।
योग के प्रभावों से फिर
दूर हम सारे रोग करें ।
महत्त्व बताकर योग के सबको
जन जन को निरोग करें ।
आओ मिलकर योग करें ।

यह भी पढ़िए –योग दिवस पर शायरी – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर स्लोगन


रचनाकार परिचय –
मै सौदामिनी खरे पति स्व0अशोक खरे जन्म तिथि 25/08/1963
मै एक शिक्षिका हूँ रायसेन जिले की निवासी हूँ ।हिन्दी साहित्य की सेवा करना अपना सौभाग्य समझती हूँ, सभी रस पर लेखन करना मेरी विधा गीत,गजल,दोहे छंद कविता नज्म आदि है।
अभी तक साझा संकलन, कश्तियो का सफर ,काव्य रंगोली में, तथा मासिक पत्रिका ग्यान सागर मे प्रकाशित हुई है हिन्दी भाषा डाट काम पर भी रचनाऐ प्रकाशित हुई है,नव सृजन कल्याण समिति की फाउन्डर मेम्बर मे मीडिया प्रभारी हूँ ।

तो बताईये की आपको “ योग का महत्व – आओ मिलकर योग करें  ” रचना कैसी लगी ? हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करे , आपके सुझाओं का हमारे ब्लॉग में हमेशा स्वागत हैं, यदि आप भी अपनी रचना हमारे साथ बाँटना चाहते हैं तो देर किसलिए उठाइये कलम ओर लिख डालिये अपने विचारों को अपने भावों में और नीचे दिए नम्बर पर एक फोटो और अपना परिचय सलंग्न करके हमे whatsapp द्वारा सूचित करें।

Mob- +919540270963
Mail ID- hindipyala@gmail.com

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।


0

Leave a Reply