गणेश भगवान का भजन – गणेश भगवान पर विशेष भजन | Ganesh Bhagwan Ka Bhajan

0

प्रिय पाठकों आज आप सबके लिए प्रस्तुत है गणेश भगवान का भजन , पृथ्वी पर सर्वप्रथम पूजनीय , शिव-पार्वती के पुत्र ,वेदों के लेखक ,एक दन्त ,गणनायक , लम्बोदर भागवान श्री गणेश जी का बेहतरीन भजन , जो की लिखा गया है रीता अरोड़ा जी के शब्दों में , तो आइये पढ़ते हैं –

गणेश भगवान का भजन

गणेश भगवान का भजन

हे प्रभु श्री गणेश
सर्व देवों में तुम विशेष,
सर्व गुणों मे सर्वश्रेष्ठ
जग में हो तुम ही ज्येष्ठ।

बुद्धि के प्रखर प्रदाता
जो तेरे दर पर आता,
सर्व सुख संपत्ति पाता
लड्डू ही तुम्हें है भाता।

सारे जग के तुम विधाता,
जो तेरी आरती गाता
परम सुख संपत्ति पाता।

शिव गौरां के लाल कहाते
सब के मन को तुम हो भाते।

मात पिता के आज्ञाकारी
कबहुँ न तुम अवज्ञा कीन्ही,
सभी कारज के शुभारंभ
फलदायक तुम ही दीनबंधु।

बिगड़ी सबकी तुम बनाते
सब जगह तुम पूजे जाते,
तुम बिन पूजा  पूर्ण न पाते।

तुम ही जग के पालनहार
हाथी सा मुख देह विशाल,
मोटा पेट और बलशाली
मोदक प्रिय मूसे की सवारी

रिद्धि सिद्धि हे गणनायक
कृपा करो हे बुद्धि विनायक,
अबकी बरस जब आओगे
अपार खुशियाँ फिर लाओगे।

 पढ़िए :- श्री कृष्ण पर कविता “बसो मोरे हिरदे में गोपाल”


रचनाकार कर परिचय

रीता अरोड़ा

नाम :- रीता अरोड़ा
उपनाम :- “जयहिन्द हाथरसी” दिल्ली
साहित्य विधा :- हास्य, ओज व सम-सामयिक गद्य व पद्य सभी
शिक्षा :- B A, B.ED
सम्मान :- साहित्य व समाज सेवा क्षेत्र में विभिन्न सम्मान प्राप्त कर चुकी हैं।
पुस्तक:-  एक एकल काव्य पुस्तक, दो पुस्तकें प्रकशनाधीन, चालीस साझा संग्रह
साहित्यिक पद :- ट्रू मीडिया महिला काव्य मंच उपाध्यक्ष, प्रणाम पर्यटन पुस्तक सदस्य, मित्र संगम पत्रिका सांस्कृतिक सचिव, दर्पण साहित्यिक एवं सांस्कृतिक संस्था कार्यकारिणी सदस्य, दस्तक प्रभात पटना दैनिक समाचार पत्र सदस्य
एन जी ओ :- विभिन्न एन जी ओ व समाजसेवी संगठन तथा धार्मिक संगठन में कार्यकर्ता सदस्य
जयहिंद मंच :- राष्ट्रीय परिषद की सदस्या

“ गणेश भगवान का भजन ” ( Ganesh Bhagwan Ka Bhajan ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

 

0

Leave a Reply