Hindi Kavita Akalmand China | हिंदी कविता अक्लमंद चाइना

Hindi Kavita Akalmand China – आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता अक्लमंद चाइना :-

Hindi Kavita Akalmand China
हिंदी कविता अक्लमंद चाइना

Hindi Kavita Akalmand China

अकलमंद चाइना।
पहले देख ले आईना।

शक्ल पर बजे है 12
अब हिंदुस्तानी बजाएगा तेरा बाजा।

चीनी सामान का करेंगे बहिष्कार।
स्वदेशी को अपनाएंगे।

हम लोगों का स्वदेशी सामान अपनाने से।
चीन का होगा जो नुकसान।

इस बात से देश विदेश में।
होगा चाइना का अपमान।

जिस देश से भी करता है काम
उस देश की सीमा पर खोल लेता है गोरखधंधे की दुकान।

अपने इस जुर्म के लिए है।
चाइना हर जगह है बदनाम

चाइना ने हमको करोना वायरस से भी रुलाया।
और प्लास्टिक का चावल भी हमको खिलाया।

प्रभु भी नहीं करेंगे ऐसे लोगों को माफ।
जिन्होंने लोगों की जिंदगी से किया खिलवाड़।

जान से भी माल से भी चाइना ने हम लोगों को पहुंचाया नुकसान
सस्ती कीमतों पर देकर अपना माल देश के लोगों को बनाया अपना गुलाम।

पढ़िए :- हिंदी कविता गांव पर :- हर गांव हर शहर से अच्छा

जिस तरह हमने अंग्रेजों को भगाया अपने देश से उसी तरह भगा देंगे चाइना को अपने देश से। चाइना के सामान का कर देंगे हम खात्मा स्वदेशी को घर घर पहुंचा कर कर देंगे हम आत्मनिर्भर भारत का अपना सपना साकार।

रचनाकार का परिचय

नूर मोहम्मद

यह कविता हमें भेजी है नूर मोहम्मद जी ने सहारनपुर से।

“ हिंदी कविता अकल्मन्द चाइना ” ( Hindi Kavita Akalmand China ) आपको कैसी लगी? Hindi Kavita Akalmand China यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.