हिंदी कविता जीवन रहस्य | Hindi Kavita Jeevan Rahasya

आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता जीवन रहस्य :-

हिंदी कविता जीवन रहस्य

हिंदी कविता जीवन रहस्य

मन में चुभती है एक कसक, काँटे की तरह ।
विचारों का एक गुबार सा उठता है, ज्वार भाटे की तरह ।।

क्या कहूँ , कैसे कहूँ , तकदीर ने समंदर दे दिया ।
सुख-दुख , पाप-पुण्य , जीवन-मरण एक बवण्डर दे दिया ।।
अश्कों की लहरों को किस कदर बहाऊँ ,
सूखी है जीवन धारा, निराशाओं का मंजर दे दिया ।।
क्या कहूँ , कैसे कहूँ……….

अद्भुत और अलौकिक है जीवन रूपी वरदान ।
ऐसा मैंने देखा है, जीवन के प्रति अभिमान ।।
इसी वहम और अहम में जिये जा रहे हैं लोग ,
हे प्रभु ! यह तुमने कैसा मानव को आडम्बर दे दिया ।।
क्या कहूँ , कैसे कहूँ…………

अपनो के ही बीच मानव वनवासी हो गया ।
जीवित रहकर भी वो स्वर्गवासी हो गया ।।
जीवन की ललक फिर भी दूर फलक तक है ,
रात और दिन गिनने को एक कैलेंडर दे दिया ।।
क्या कहूँ , कैसे कहूँ……….

कोई समझा हो तो समझाना, इस जीवन रूपी रहस्य को ।
किसी ने देखा हो तो दिखाना, उस अद्भुत शक्ति अदृश्य को ।।
कितने ही जीवन जीने के बाद कोई जी न सका ,
हे अगोचर ! हे अगम ! हे अगाध !
यह कैसा तुमने जीवन ज्योति जलंधर दे दिया ।।
क्या कहूँ , कैसे कहूँ…………।।

पढ़िए :- मेरी अभिलाषा पर कविता | जीवन की कामना बताती कविता


रचनाकार का परिचय

एस बी प्रजापतिनाम – एस बी प्रजापति
पिता – श्री मुन्ना लाल
पता- हमीरपुर यू पी
रुचि- कविता लिखना एवम अंग्रेजी अध्यापन ।

“ हिंदी कविता जीवन रहस्य ” ( Maa Saraswati Vandana Hindi Kavita ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on email
Email

1 thought on “हिंदी कविता जीवन रहस्य | Hindi Kavita Jeevan Rahasya”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *