हिंदी कविता सफलता | Hindi Kavita Safalta

0

आप पढ़ रहे हैं हिंदी कविता सफलता :-

हिंदी कविता सफलता

हिंदी कविता मृगमरिचिका

बुझ रहे हो दीयें सारे,
ओट कर.. जलाए रखना।
जल विहीन भूमि से भी,
तुम….निकाल लोगे जल..
विश्वास को बनाए रखना।

अंधकार व्याप्त हो..
सूर्य की तलाश हो,
मार्ग जुगनूओं की रोशनी से
तुम सजाए रखना।

मुश्किलें मिले अगर,
डर के लौटना न तुम..
आत्मविश्वास की चमक
चेहरे पर खिलाए रखना।

मान को बनाए रखना,
सम्मान को बचाए रखना।
रच दो इतिहास ,
ऐसा परचम फहराये रखना

ज्ञान की मशाल से
रोशनी फैलाएं रखना।
जीत लेना दुनिया को,
ह्रदय सदा विशाल रखना।

अस्थियां जलाकर अपनी
वज्र का निर्माण कर,
सूर्य की तपिश को
भीनी चांदनी बनाए रखना।

तप कर… चोट खाकर ही
निखरता है सोना खरा,
उस तपन की शुद्धता को
व्यक्तित्व में समाये रखना।

स्वेद की बूंदों को …
ललाट पर सजाए रखना
कर्म करके भाग्य रेखा
को पुनः चमकाए रखना।
श्रम की चमक घोल
अपने कर्म में मिलाएं रखना।

हौसला विमान हो
सपनों की उड़ान हो,
रोक पाए न आंधियां ,
ऐसा जज्बा -ए तूफान हो।
जीत की ललक को ..
अपनी आंखों में सजाए रखना।

पर्वतों को तुम झुका कर
रास्ता अपना बना लो,
गति कहीं अवरुद्ध ना हो
मंजिले ‘जिद ‘तुम बना लो।
लक्ष्य निरंतर भेद कर,
खुद को अलभ्य बनाये रखना।


रचनाकार का परिचय

निमिषा सिंघल

नाम : निमिषा सिंघल
शिक्षा : एमएससी, बी.एड,एम.फिल, प्रवीण (शास्त्रीय संगीत)
निवास: 46, लाजपत कुंज-1, आगरा

निमिषा जी का एक कविता संग्रह, व अनेक सांझा काव्य संग्रहों में रचनाएं प्रकाशित हैं। इसके साथ ही अनेक प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं की वेबसाइट पर कविताएं प्रकाशित होती रहती हैं।

उनकी रचनाओं के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया है जिनमे अमृता प्रीतम स्मृति कवयित्री सम्मान, बागेश्वरी साहित्य सम्मान, सुमित्रानंदन पंत स्मृति सम्मान सहित कई अन्य पुरुस्कार भी हैं।

“ हिंदी कविता सफलता ” ( Hindi Kavita Safalta ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

0

Leave a Reply