प्रतिभा पलायन पर कविता | Pratibha Palayan Par Kavita

प्रतिभा पलायन पर कविता

प्रतिभा पलायन पर कविता

प्रतिभा पलायन पर कविता

मन में है विदेशी नोट का ख्वाब,
परदेशों की ओर हो रहा झुकाव,
प्रतिभा पलायन का हो रहा बहाव,
हो रहा राष्ट्र का क्यों बिखराव ?

जिस मां की कोख ने जनम दिया,
नहीं कभी उसकी परवाह किया,
अर्थ लालच में परित्याग किया,
राष्ट्र विकास अपना भुला दिया।

लानत है उनके ऐशो आराम पर,
जाके बस गए विदेशी धरातल पर,
आंसू नहीं बहाए बिलखती मां पे,
वे हर्षित हैं अमेरिकन कहलाने पर।

डॉ. चन्द्रशेखर,डॉ. अब्दुल कलाम,
याद कर खुश हैं देश के सारे आवाम,
खड़ा किया जग में हिन्द का नाम,
आज है जिन पर देश को अभिमान।

ये कहां चला गया स्वदेशी जागरण,
बढ़ रहा है आज परदेशी आकर्षण,
हिन्द में हो रहा है नेतृत्व परिवर्तन,
नहीं रुक रहा है प्रतिभा पलायन।

हमारा हिन्द था एक दिन तेरा पलना,
क्यों कर रहा है प्रतिभा पलायन ?
कर दे प्रतिभा राष्ट्र पर न्योछावर,
तब हिन्द राष्ट्र का होगा उजागर।

पढ़िए :- मनोबल पर कविता ” आसमान में उड़ने का”


रचनाकार का परिचय

सदानन्द प्रसाद

यह कविता हमें भेजी है सदानन्द प्रसाद जी ने संग्रामपुर,लखीसराय ( बिहार ) से। इनकी शिक्षा स्नातक,डिप. इन.फार्मेसी है। ये योग प्रशिक्षित हैं व भारतीय खाद्य निगम सेवा से निवृत्त हैं। साथ ही बिहार राज्य उपभोक्ता सहकारी संघ,लि., पटना में निदेशक भी रहे हैं।

प्रारंभ से ही समाज सेवा में इनकी अभिरुचि रही है व समाजवादी विचार धारा रही है। कर्पूरी टाइम्स एवं निरोग संवाद पत्रिका का संपादन कार्य भी इन्होंने किया है। विज्ञान का छात्र होने के बावजूद बचपन से ही हिंदी लेखन-पाठन में अभिरुचि रही है।
सामाजिक ,सांस्कृतिक, प्राकृतिक एवं ग्रामीण पृष्ठभूमि पर इनकी काव्य रचनायें हैं। बिहार हिंदी साहित्य सम्मेलन से जुड़ा हैं और हिंदी काव्य गोष्ठी में भाग लेते हैं।

“ प्रतिभा पलायन पर कविता ” ( Pratibha Palayan Par Kavita ) आपको कैसी लगी ? “ प्रतिभा पलायन पर कविता ” ( Pratibha Palayan Par Kavita ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे लेखक का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.