कविता नई स्त्री की खोज | Kavita Nayi Stree Ki Khoj

0

आप पढ़ रहे हैं कविता नई स्त्री की खोज :-

कविता नई स्त्री की खोज

कविता नई स्त्री की खोज

सुनो स्त्रियों!
हां !
तुम्ही से कुछ कहना है मुझे।

ईश्वर ने चुना तुम्हें परीक्षा के लिए।

उतरती रहीं खरी..
हर परीक्षा में तुम।

धैर्य, दुख, शोषण, पीढ़ा
अस्तित्व रहित रहकर भी
जिया जीवन…
आत्महत्या नहीं की
जिंदा रखा खुद को।

इतना ही नहीं
अनेक विषमताओं में घिरकर
चेहरे पर खिलाए रखी
भुवनमोहिनी मुस्कान।

फूल से कोमल मन पर
झेलती रही तंजो के बाण..
जब निकल पड़ी अस्तित्व की तलाश में …
तो
पूछा गया तुमसे फिर एक सवाल
अब क्या करोगी ?अपने लिए जीकर…
तुम्हारा समय निकल गया।

सुनो! तुम उनकी बातों में ना आना।

समय कभी नहीं निकलता।
हाथ से छूटती डोर
को भी अगर झटका दो
वापस आ जाती है।

जीने का कोई मौका
हाथ से ना जाने देना।

कर्तव्य निष्ठा के बाद निकाला गया समय
वो तो तुम्हारा ही है न!
उन पलों में अपने सपनों को ऊंचाइयों दो।
रंग भरो!
अपने कैनवास में..
बंद कर लो अपने कान।

मत सुनो!
बाहरी शोर को कुछ समय के लिए।

खुल कर जिओ!
कुछ पल अपने पसंदीदा
साजो सामान और तृष्णाओ के लिए।

इस कदर जिओ…
की शांति पा जाए अंतरात्मा
अब तक की गई समर्पण और त्याग के लिए।

त्याग और समर्पण की सिर्फ मूर्ति नहीं तुम!
कुछ तो बाकी है तुम्हारे अंदर भी।

बाहर निकालो उन दबी कुचली इच्छाओं को।
मरहम पट्टी कर स्वस्थ करो।

खुद को एक नए रूप में देखो।
खुशी,आत्मविश्वास से भरी सिर्फ मूरत नहीं

एक नई स्त्री।


रचनाकार का परिचय

निमिषा सिंघल

नाम : निमिषा सिंघल
शिक्षा : एमएससी, बी.एड,एम.फिल, प्रवीण (शास्त्रीय संगीत)
निवास: 46, लाजपत कुंज-1, आगरा

निमिषा जी का एक कविता संग्रह, व अनेक सांझा काव्य संग्रहों में रचनाएं प्रकाशित हैं। इसके साथ ही अनेक प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं की वेबसाइट पर कविताएं प्रकाशित होती रहती हैं।

उनकी रचनाओं के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया है जिनमे अमृता प्रीतम स्मृति कवयित्री सम्मान, बागेश्वरी साहित्य सम्मान, सुमित्रानंदन पंत स्मृति सम्मान सहित कई अन्य पुरुस्कार भी हैं।

“ कविता नई स्त्री की खोज ” ( Kavita Nayi Stree Ki Khoj ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे रचनाकार का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

0

Leave a Reply