शिक्षक पर हिंदी कविता :- मेरा प्यारा शिक्षक

0

यूँ तो जिंदगी स्वयं एक शिक्षक है परन्तु जिंदगी में भी कोई ऐसा मिल जाता है जो हमें जिंदगी जीने का ढंग बता जाता है। ऐसे ही  शिक्षक को समर्पित है यह शिक्षक पर हिंदी कविता :-

शिक्षक पर हिंदी कविता

शिक्षक पर हिंदी कविता

आज शिक्षक दिवस पर,
सभी शिक्षकों को नमस्कार।

आज उन्हीं के कारण में भी हूं एक शिक्षक।
जीवन में हमेशा याद रहता है प्यारा शिक्षक।

जो मेरी गलती पर, प्यार से समझाता था।
हर काम में मुझे शाबाश शाबाश कहता था।

शिक्षक के पुनर्बलन से बच्चा होता मालामाल।
जिसने भी शिक्षक का किया सम्मान वह बना महान।

शिक्षक का बार बार समझाना,पुचकारना।
मीठा-मीठा उलाहना भी लगता है सुहावना।

शिक्षक ने मुझे सिखाया आत्मविश्वास कभी न खोना।
जीवन संघर्ष में आई बाधाओं से कभी मुंह ना मोड़ना।

हर नए मुकाम पर याद आ ही जाता है प्यारा शिक्षक।
ऐसे मेरे महान शिक्षक, प्यारे शिक्षक को।
शिक्षक दिवस पर बारंबार प्रणाम, बारंबार प्रणाम।


रचनाकार का परिचय
हंसराज "हंस"
हंसराज “हंस” जी गत 30 वर्षो से अध्यापन का कार्य करवा रहे है। शिक्षा मे नवाचारों के पक्षधर है। “हैप्पी बर्थडे” “गांव का अखबार” इनके शैक्षिक नवाचार है। शिक्षक प्रशिक्षण कार्यशालाओं में संदर्भ व्यक्ति (रिसोर्स पर्सन) के रूप में 8-10 वर्षों का अनुभव रखते है। तात्कालिक मुद्दों, जयंतियों व सामाजिक कुरीतियों पर आलेख लिखते रहते। मौलिक लेख विभिन्न सामाजिक, धार्मिक व देश व प्रदेश की पत्रिकाओं में प्रकाशित होते रहते हैं। इसके साथ ही न्यूज पोर्टल व सोशल मीडिया के माध्यम से भी कई वेबीनारो व फेसबुक लाइव प्रसारण पर विभिन्न मंचों के माध्यम से अपने मौलिक विचारों का प्रकटीकरण करते रहते है। शिक्षक संगठन व सामाजिक संगठनों में विभिन्न दायित्वों का निर्वाह करते हुए निरंतर सामाजिक सुधारों की ओर अग्रसर है।

“ शिक्षक पर हिंदी कविता ” ( Shikshak Par Hindi Kavita ) के बारे में कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। जिससे लेखक का हौसला और सम्मान बढ़ाया जा सके और हमें उनकी और रचनाएँ पढ़ने का मौका मिले।

यदि आप भी रखते हैं लिखने का हुनर और चाहते हैं कि आपकी रचनाएँ हमारे ब्लॉग के जरिये लोगों तक पहुंचे तो लिख भेजिए अपनी रचनाएँ hindipyala@gmail.com पर या फिर हमारे व्हाट्सएप्प नंबर 9115672434 पर।

हम करेंगे आपकी प्रतिभाओं का सम्मान और देंगे आपको एक नया मंच।

धन्यवाद।

0

Leave a Reply